Wednesday, February 1, 2023
HomeHealthHealth tips - व्हिस्की में ठंडा पानी मिलाकर पीते हैं तो हो...

Health tips – व्हिस्की में ठंडा पानी मिलाकर पीते हैं तो हो जाइए सावधान , जानिए वाइन एक्सपर्ट से सच्चाई

- Advertisement -

Health tips – वाइन विशेषज्ञ व्हिस्की में ठंडा पानी डालना क्यों बंद कर देते हैं? ये है इसके पीछे का विज्ञान कई लोग व्हिस्की को ठंडे पानी में मिलाकर पीना पसंद करते हैं। लेकिन वाइन एक्सपर्ट(wine expert) इसके खिलाफ सलाह देते हैं। इसके पीछे पूरा विज्ञान है। आइए जानें कि विशेषज्ञ ठंडे पानी में मिलाकर व्हिस्की पीने से क्यों मना करते हैं।

Health tips – व्हिस्की में पानी मिलाना चाहिए या कोई अन्य शराब, यह एक बड़ी बहस का विषय है। वास्तव में, अधिकांश वाइन विशेषज्ञों (wine experts)का मानना ​​है कि हार्ड ड्रिंक(hard drink) का आनंद उसके मूल रूप में ही लेना चाहिए। हालांकि, भारत और एशियाई देशों में लोगों के स्वाद पैलेट, वहां उपलब्ध पेय पदार्थों(beverages) की गुणवत्ता और जलवायु के कारण, पेय पदार्थों में पानी जोड़ना आम बात है।

- Advertisement -

सिर्फ पानी ही नहीं, लोग शराब के साथ जूस, सोडा, एनर्जी ड्रिंक पीते हैं और पता नहीं क्या। शराब के कड़वे स्वाद को संतुलित करने के अलावा यह शरीर को हाइड्रेट भी करता है।

Health tips – कई लोग व्हिस्की को ठंडे पानी में मिलाकर पीना पसंद करते हैं। खाद्य विशेषज्ञों(food experts) का मानना ​​है कि शराब के साथ मिश्रित पानी(mixed water) का तापमान बहुत महत्वपूर्ण है। शराब के स्वाद, सुगंध पर इसका बहुत प्रभाव पड़ता है। पानी के तापमान के महत्व को समझने वाले ही हार्ड ड्रिंक (hard drink) के स्वाद की सराहना करेंगे। वास्तव में, लोगों की स्वाद कलिकाएं तरल पदार्थों के विभिन्न तापमानों पर अलग-अलग प्रतिक्रिया करती हैं,

इसलिए लोगों को भी अलग-अलग स्वाद का अनुभव होता है। जानकारों के मुताबिक, खाना हो या पीना, ठंड लगने पर हमारी स्वाद कलिकाएं(taste buds) ठीक से समझ नहीं पाती हैं। पहले की तुलना में गर्म होने पर खाने या पीने का स्वाद बेहतर होता है। यही कारण है कि गर्म बीयर (hot beer) का स्वाद कड़वा होता है, जबकि ठंडी या ठंडी बीयर पीना मुश्किल नहीं है.Health tips

पानी मिलाने का तापमान कितना होना चाहिए?-Health tips
वाइन विशेषज्ञों का मानना ​​है कि मानव स्वाद कलिकाएं 15 से 35 डिग्री सेल्सियस के बीच सबसे अच्छा काम करती हैं। 35 डिग्री के तापमान पर स्वाद कलिकाएं ( taste buds )पूरी तरह खुल जाती हैं और चीजों को चखने के बाद हमारा दिमाग स्वाद और स्वाद के बारे में स्पष्ट संदेश भेजता है। दूसरी ओर, जब पेय या भोजन का तापमान 15 डिग्री से नीचे होता है, तो स्वाद कलिकाएँ मस्तिष्क(taste buds brain) को स्पष्ट संदेश नहीं भेज पाती हैं, जिसके कारण स्वाद या गंध का बिल्कुल भी पता नहीं चलता है.Health tips

यानी, अगर ड्रिंक्स को पूरी तरह से ठंडा करके पिया जाए, तो यह किसी तरह हमारे स्वाद पैलेट को म्यूट कर देगा और फ्लेवर समझ में नहीं आएगा। इस मामले में, यदि कोई महंगे एकल माल्ट का आनंद लेना चाहता है, तो इसे ठंडा पीने से इसका मूल स्वाद प्रबल हो जाएगा। शायद इसीलिए वाइन विशेषज्ञ बिना कुछ मिलाए महंगी वाइन पीने की सलाह देते हैं। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि व्हिस्की का सही स्वाद लेने के लिए पानी का तापमान कमरे का तापमान या थोड़ा अधिक होना चाहिए.Health tips

इसी वजह से बनते हैं खास गिलास.Health tips
अगर आपने ध्यान दिया हो तो व्हिस्की सबसे ज्यादा टंबलर गिलास(tumbler tumbler) में सर्व किए जाते हैं. इन गिलास की तली काफी मोटी और भारी होती है. भारी तली का मकसद व्हिस्की (Motive Whiskey) की स्वाभाविक गर्माहट को बरकरार रखना है ताकि जिस सतह पर गिलास को रखा जाए, उसका तापमान परोसी(serving temperature) गई शराब के तापमान को प्रभावित न करे.

वहीं, वाइन ग्लासेज के नीचे की तरफ लंबा सा हिस्सा होता है जिसे स्टेम (Stem) कहते हैं. वाइन एक्सपर्ट(wine expert)इसे पकड़कर ही पीने की सलाह देते हैं. वजह यही है कि कहीं गिलास को स्टेम के बजाए पेंदी से हाथों में पकड़ने से उसमें पड़ी वाइन का तापमान न बदल जाए.Health tips

also read – Skin Care Tips: ढलती उम्र में देखना चाहते हैं जवां, ऐसे करें कच्चे दूध का इस्तेमाल , माधुरी दीक्षित का भी हैं सीक्रेट टिप्स !

Health tips - व्हिस्की में ठंडा पानी मिलाकर पीते हैं तो हो जाइए सावधान , जानिए वाइन एक्सपर्ट से सच्चाई
photo by google

also read – Health: किचन में छुपा है सेहत का राज , अब रोजाना खाएं यें चीज और हाई कोलेस्ट्रॉल से पाएं छुटकारा

Health tips - व्हिस्की में ठंडा पानी मिलाकर पीते हैं तो हो जाइए सावधान , जानिए वाइन एक्सपर्ट से सच्चाई
photo by google
- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular