Tuesday, March 5, 2024
HomeMadhya Pradeshcrime meeting: पुलिस अधीक्षक ने ली मासिक अपराध समीक्षा बैठक,कहा-फरियादियों के साथ...

crime meeting: पुलिस अधीक्षक ने ली मासिक अपराध समीक्षा बैठक,कहा-फरियादियों के साथ संवेदनशील होकर उनकी शिकायतों का करें त्वरित निराकरण

- Advertisement -
- Advertisement -

crime meeting: सिंगरौली। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के रूस्मतजी कॉन्फे्रसिंग हाल में एसपी मो.युसूफ कुरैशी की अध्यक्षता में मासिक अपराध समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में  शिव कुमार वर्मा  अति पुलिस अधीक्षक,देवेश कुमार पाठक, नगर पुलिस अधीक्षक विंध्यनगर,वीरेन्द्र धार्वे  एसडीओपी देवसर, राजाराम धाकड़ उप पुलिस अधीक्षक  अजाक तथा जिले के समस्त थाना एवं चौकी प्रभारीगण उपस्थित हुए।


crime meeting:अपराध समीक्षा के दौरान थानावार त्रि-वर्षीय तुलनात्मक भादवि के अपराध, लघु अधिनियम,प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की समीक्षा की गई। जिन शीर्षो में विगत वर्ष की तुलना में कम कार्यवाही पाई गई। उनमें संबंधित थाना प्रभारी को अधिक से अधिक कार्यवाही करने व अपराधो के नियंत्रण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। साथ ही थानावार प्रत्येक गंभीर अपराध की समीक्षा की गई। लंबित प्रकरणों के संबंध में आवश्यक चर्चा की जाकर शीघ्र निराकरण हेतु संबंधित थाना प्रभारी को आवश्यक निर्देश दिये गये। गुम इंसान की दस्तयाबी हेतु हरंसभव प्रयास किये जाने हेतु थाना प्रभारी के साथ-साथ राजपत्रित अधिकारी को विशेष अभियान के तहत दस्तयाबी किये जाने हेतु पाबंद किया गया। जिले में चैन स्नैचिंग एवं मोबाइल स्नैचिंग के मामलों को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को एसओपी तैयार कर कार्यवाही कराने के निर्देश दिये गये।

अवैध शराब एवं अवैध मादक पदाथों की शिकायतों पर त्वरित संज्ञान लेकर सख्ती से कार्यवाही करने के निर्देशित किया गया। जिले के सभी पुलिस राजपत्रित अधिकायरियों को थाना क्षेत्रांतर्गत अपराधों की समीक्षा कर 2 या 2 से अधिक अपराध घटित करने वाले आरोपियों को गुण्डा/निगरानी सूची में लाये जाने के निर्देश दिये गये। आयोगों एवं वरिष्ठ कार्यालयों से प्राप्त शिकायतों की जांच तत्परतापूर्वक की जाकर जांच प्रतिवेदन शीघ्र भेजें। वर्ष 2023 की शिकायतों को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करें।crime meeting:
अपराधों में लाएं कमी
साथ ही सीएम हेल्पलाईन की लंबित शिकायतों की समीक्षा की गई तथा सीएम हेल्पलाईन पोर्टल पर एल-1 स्तर पर प्राप्त शिकायतों को संबंधित नपुअ/ एसडीओपी स्वयं शिकायत की तस्दीक कर तथ्यात्मक जानकारी पोर्टल पर दर्ज करायें। संपत्ति संबंधी अपराधों पर नियंत्रण रखने एवं रोकथाम हेतु राजपत्रित अधिकारी एवं थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया। साइबर अपराध, महिला अपराध, एससी/एसटी एक्ट के अपराधों की रोकथाम एवं उनके त्वरित निराकरण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।crime meeting:
संवेदनशील स्थानों पर गश्त पाइंट बढ़ाएं
रात्रि गश्त को सक्रियता एवं प्रभावी रूप से करने हेतु पाबंद किया गया। संवेदनशील स्थानों पर गश्त पाइंट बढ़ाने एवं रात्रि गश्त के दौरान चोरी,नकाबजनी एवं  असामाजिक तत्वों पर नियंत्रण हेतु निर्देशित किया गया।  सिंगरौली को औद्योगिक दृष्टिकोण से समझाते हुये यातायात दुर्घटनाओं एवं सडक़ सुरक्षा के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। दो या दो से अधिक हुये सडक हादसो के हॉटस्पॉट को चिन्हित करें। तथा जनचेतना शिविर आयोजित करने के निर्देश दिये गये।
संवेदनशील होकर फरियादियों की सुने शिकायत
फरियादियों से संवेदनशील होकर व्यवहार एवं उनकी शिकायतों पर त्वरित वैधानिक कार्यवाही हो प्रत्येक पुलिस अधिकारीध्कर्मचारी सुनिश्चित करें।  हाल ही में थाना मोरवा क्षेत्रांतर्गत में बिजली का करंट लगने से हुई घटना को दृष्टिगत रखते हुए समस्त थाना प्रभारियों को ऐसे खेतों,खलिहानों को जहां जंगली जानवरों के लिये लगाये गये बिजली तार फिसिंग, जिसमें जानमाल की हानि हो सकती है। संबंधित के विरूद्ध आवश्यक वैधानिक/प्रतिबंधात्मक कार्यवाही के निर्देश दिये गये। 

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular