Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshSingrauli : भाजपा कांग्रेस का आप पार्टी ने तोड़ा भ्रम, सामान्य वर्ग...

Singrauli : भाजपा कांग्रेस का आप पार्टी ने तोड़ा भ्रम, सामान्य वर्ग का प्रत्याशी महापौर बनने के बाद CM Shivraj व EX CM Kamal Nath’s की भी खुल गई आंखें

- Advertisement -

Singrauli – The AAP party broke the illusion of BJP Congress, CM Shivraj and EX CM Kamal Nath’s eyes also opened after becoming the general category candidate as mayor.

Singrauli – नगर के प्रथम नागरिक के रूप में जनता ने आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार रानी अग्रवाल को 9352 मतों से जी ताकत अगड़े पिछड़े का मिथक (भ्रम) तोड़ दिया है रविवार को महापौर पद के लिए घोषित किए गए चुनाव परिणाम मैं आप प्रत्याशी रानी अग्रवाल ने भाजपा उम्मीदवार चंद्र प्रताप विश्वकर्मा को 9352 से ज्यादा फोटो से पराजित कर दिया है बल्कि मध्यप्रदेश में आम आदमी पार्टी की जीत का खाता खोलकर अपना नाम स्वर्ण अक्षरों में इतिहास बना दिया है.

- Advertisement -

बता दें कि Singrauli जिला बनने से यह बात लोगों के मन में घर कर गई थी कि यहां विधानसभा और महापौर पद के लिए सामान्य वर्ग का प्रत्याशी नहीं जीत सकता है इसलिए भाजपा हो या कांग्रेश पिछड़े वर्ग के उम्मीदवार को मैदान में उतार दी थी हालांकि इसके पहले जब अनारक्षित सीट में भाजपा और कांग्रेस ने सामान्य को टिकट दिया तो उन चुनावों में दोनों ही पार्टियों की भारी अंतर से हार हुई थी ऐसे में यहां राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले लोग दावा करने लगे थे कि यहां सामान्य वर्ग के दिन कोई भी उम्मीदवार चुनाव नहीं जीत सकता है लेकिन अब रानी अग्रवाल महापौर चुनाव जीतकर लोगों का मिथक (भ्रम) दूर कर दिया है फिलहाल आप कोई यह नहीं कह सकता कि सामान्य वर्ग का उम्मीदवार विधायक या महापौर नहीं बन सकता.

Singrauli : भाजपा कांग्रेस का आप पार्टी ने तोड़ा भ्रम, सामान्य वर्ग का प्रत्याशी महापौर बनने के बाद CM Shivraj व EX CM Kamal Nath's की भी खुल गई आंखें
photo by google

बता दें कि महापौर प्रत्याशी रानी अग्रवाल ने यह साबित कर दिया कि यदि अच्छे व्यक्तित्व और सेवाभावी नेता और समर्पित कार्यकर्ता साथ हो तो बड़ी से बड़ी लड़ाई भी अपने पक्ष में कर सकते हैं रानी की इस जीत का असर जिले की राजनीतिक समीकरण बदल दिया है वहीं दूसरी तरफ माना जा रहा है कि जिले की राजनीति पर अब अगले कई सालों तक देखने को मिलेगा क्योंकि अब बड़े नेताओं की कतार और भी लंबी हो गई है आम आदमी पार्टी को मिली जीत का असर आने वाले विधानसभा चुनावों में भी देखने को मिलेगा क्योंकि रानी अग्रवाल पिछला विधानसभा चुनाव भी लड़ चुकी है उन्हें 3,1000 से ज्यादा वोट मिले थे. और क्षेत्र में न केवल वह लोकप्रिय हैं बल्कि वह लोगों से लगातार संपर्क में रहती हैं. Singrauli

भाजपा कांग्रेस के नेता आप वे देख रहे अपना भविष्य

कहा जा रहा है कि 5 साल पहले रानी अग्रवाल जब भाजपा में अपना भविष्य नजर नहीं आया और खुद को बिछड़ता दे वह आम आदमी पार्टी मैं चली गई ऐसे मैं अब जब आम आदमी पार्टी ने बीजेपी से महापौर सीट छीन ली है ऐसे में भाजपा और कांग्रेस के कई नेता आप पार्टी में अपना भविष्य तलाशने लगे हैं ऐसे करीब दर्जन भर नेताओं को यह परिणाम और राजनीतिक समीकरण में आम आदमी पार्टी का दामन थामने का प्रयास करेंगे माना जा रहा है कि रानी अग्रवाल अब महापौर बन चुकी हैं संदीप चाय जिला पंचायत सदस्य बन गए हैं इसके साथ ही 5 पार्षद भी क्यों नहीं गए हैं यानी कुल 7 जनप्रतनिधि पार्टी के हो चुके हैं आने वाले दिनों में कई नेता आप की टोपी पहने और झाड़ू था में दिखाई देंगे तो हैरानी नहीं होना चाहिए.

राजनीतिक जानकारों की माने तो कई ब्राह्मण नेता रानी अग्रवाल को अपना सबसे बड़ा हितेषी बता रहे हैं और उनका भरोसा जीतने का प्रयास शुरू कर दिया है भाजपा और कांग्रेस में टिकट नहीं मिलने के बाद अब ऐसे ब्राह्मण नेता आप पार्टी से विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर लिए हैं कहा यह भी जा रहा है कि यह बरसाती मेंढक की तरह है जो बरसात में ही बाहर निकलते हैं कहने का मतलब यह है कि जब चुनाव होगा तभी यह कुर्ता पजामा पहने 1-2 धरना प्रदर्शन कर लोगों की नजरों में आकर अपना हित साधना चाहते हैं. इन नेताओं के पास कोई बड़ा जनाधार नहीं है लेकिन रानी अग्रवाल को जिताने का सबसे ज्यादा श्रेय यही ले रहे हैं.

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular