Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshVindhyaSingrauli News : सीएम शिवराज की योजनाओं पर महिला बाल विकास अधिकारी लगा रे...

Singrauli News : सीएम शिवराज की योजनाओं पर महिला बाल विकास अधिकारी लगा रे पलीता , रिक्त पदों को भरने 1 लाख की डिमांड !

- Advertisement -

Singrauli News – सीएम शिवराज सिंह चौहान आम लोगों के हितों के लिए कई योजनाएं संचालित किए हुए हैं लेकिन उनके मातहत कर्मचारी उनके इन योजनाओं पर पलीता लगाने कि कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं कहा तो यह भी जा रहा है कि आंगनबाड़ कार्यकर्ता के पद सिर्फ इसलिए रिक्त पड़े हुए हैं की माननीय को एक लाख रुपए बतौर रिश्वत चाहिए!

Singrauli News – महिला बाल विकास विभाग सिंगरौली फिर एक बार सुर्खियों में आ गया है। यह मामला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के निुयक्ति का बताया जाता है। जहां डीपीओ के द्वारा अपने कारखास को निर्देश दिए गए हैं कि जब तक एक लाख रुपए की डिमाण्ड पूरी नही होती तब तक नियुक्ति अधर में ही लटकी रह जाएगी। बतादें कि महिला बाल विकास विभाग में पूरी तरीके से अंधेरगर्दी का आलम बना हुआ है। इसके बावजूद जिम्मेदार अधिकारी कहें या फिर जिले के मुखिया ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्यवाही करने से आखिर क्यों कतरा रहे हैं।

- Advertisement -

गौरतलब हो कि महिला बाल विकास विभाग सिंगरौली में अभी पोषण आहार का मामला सुर्खियों में छाया रहा। जहां तीन माह से पोषण आहार का वितरण नही हुआ। वहीं फिर से एक मामला प्रकाश में आ गया है। बताया जाता है कि यह मामला आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के नियुक्ति का है। सूत्र बताते हैं कि  वर्ष 2021 में एक मामला पराई का था। जहां एक कार्यकर्ता की नियुक्ति होनी थी। उक्त आंगनबाड़ी पद रिक्त पड़ा हुआ है। बताया जाता है कि एक नंबर में जो आंगनबाड़ी कार्यकर्ता थी उसे नियुक्त करना था लेकिन वह ज्वाइन नही की। ऐसे में जो दो और तीन नंबर पर न्यू कार्यकर्ता की ज्वाइंनिंग करानी थी। अभी तक ज्वाइनिंग नही कराई गई है. Singrauli News

बता दें कि ज्वाइनिंग नही करने के चलते पराई गांव में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का पद पूरी तरीके से रिक्त पड़ा हुआ है। जब इसकी बात महिला बाल विकास अधिकारी से की जाती है तो उनके द्वारा कहा जाता है कि जिला पंचायत सीईओ का स्थानांतरण हो गया है। अभी जिला पंचायत सीईओ का पद रिक्त है। जो अतिरिक्त सीईओ है वह फाइल पर साइन नही कर रहे हैं। जब नए सीईओ आएंगे और फाइल पर साइन करेंगे तब देखा जाएगा। आखिर जिला पंचायत सीईओ सिंगरौली का स्थानांतरण अभी हाल ही में नवंबर माह में हुआ है और यह फाइल लगभग 6 माह पूर्व की बताई जा रही है। ऐसे में यह साफ साबित होता है कि नवनियुक्ति आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की नियुक्ति का मामला सिर्फ पैसे के लेनदेन के चलते अधर में पड़ा हुआ है. Singrauli News

एक लाख की हुई है डिमाण्ड -Singrauli News

सूत्रों की बातों पर गौर करें तो पराई में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की जो निुयक्ति होनी है उसमें काफी झोल बताया जा रहा है। नियुक्ति का मामला तो बेपरदा है। इसमें जो दो और तीन नंबर पर चयनित हुई है उनकी ही नियुक्ति करनी चाहिए। लेकिन ऐसा इसलिए नही किया जा रहा है क्यों कि जिन कार्यकर्ताओं की नियुक्ति होनी है उनसे साफ कह दिया गया है कि एक लाख रुपए जब तक साहब को नही मिलेंगे तब तक  यह नियुक्ति नही हो पाएगी .Singrauli News

महिला बाल विकास बना घूसखोरी का अड्डा – Singrauli News

महिला बाल विकास विभाग में जब से डीपीओ के पद पर राजेश राम गुप्ता की पदस्थापना हुई है। तब से महिला बाल विकास विभाग पूरी तरीके से घूसखोरी का अड्डा बन चुका है। इनका तार परियोजना अधिकारियों से भी जुड़ा रहता है। तभी  तो सुपरवाइजरों से लेकर परियोजना अधिकारी के द्वारा खुलेआम कार्यकर्ताओं से दो सौ रुपए की प्रतिमाह अवैध वसूली कराई जा रही है। यह कहीं न कहीं महिला बाल विकास अधिकारी के संरक्षण में किया जा रहा है. Singrauli News 

also read – Singrauli News : कांग्रेसियों ने गांधी चौपाल में शिवराज सरकार को घेरा, गिनाई कमलनाथ की उपलब्धियां

Singrauli News : सीएम शिवराज की योजनाओं पर महिला बाल विकास अधिकारी लगा रे पलीता , रिक्त पदों को भरने 1 लाख की डिमांड !
photo by mee

also read – Singrauli News:  सोलार इंडस्ट्रीज बारूद फैक्ट्री के खिलाफ जपं सदस्य सहित ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, सांसद से कहीं यह बात

Singrauli News : सीएम शिवराज की योजनाओं पर महिला बाल विकास अधिकारी लगा रे पलीता , रिक्त पदों को भरने 1 लाख की डिमांड !
photo by google
- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular