Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshVindhyaSingrauli News:  सोलार इंडस्ट्रीज बारूद फैक्ट्री के खिलाफ जपं सदस्य सहित ग्रामीणों...

Singrauli News:  सोलार इंडस्ट्रीज बारूद फैक्ट्री के खिलाफ जपं सदस्य सहित ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, सांसद से कहीं यह बात

- Advertisement -

Singrauli News:  देवसर जनपद क्षेत्र के बाघाडीह गांव का हाल, यहां के ग्रामीणों में सोलार कंपनी के आने से सताया डर,बलियरी हादसे की पुनरावृत्ति न हो

Singrauli News – सिंगरौली 20 नवम्बर। बरगवां के समीपस्थ बाघाडीह गांव में सोलार इंडस्ट्रीज कंपनी के खिलाफ ग्रामीणों के साथ-साथ जनपद सदस्य ने भी मोर्चा खोल दिया है। जनपद सदस्य मनबोध प्रजापति ने इस संबंध में बकायदे सांसद को चिट्ठ  लिखकर बाघाडीह से सोलार इंडस्ट्रीज बारूद कंपनी को हटाये जाने की मांग की है।

- Advertisement -

जनपद पंचायत क्षेत्र देवसर के वार्ड क्र.7 के जनपद सदस्य मनबोध प्रजापति ने सांसद को इस आशय का पत्र लिखा है कि बाघाडीह गांव हरिजन, आदिवासी की घनी बस्ती है। यहां पर गुपचुप तरीके से पंचायत से एनओसी लेकर बगैर ग्रामीणों को सूचना दिये सोलार इन्डस्ट्रीज प्रा.लि. नागपुर शाखा कार्यालय सिंगरौली के द्वारा बारूद का भण्डारण का कार्य किया जा रहा है। जिसे तत्काल रूप से एनओसी को रद्द करते हुए निर्माण कार्य बंद कराया जाय। 

जनपद सदस्य ने पत्र में आगे लिखा है कि घनी आबादी में सभी हरिजन, आदिवासी वर्ग के लोग निवासरत हैं। यहां परिवार के भरण-पोषण की भूमियां भूमि व मकान से लगा हुआ है। इस भूमि के अलावा यहां के कास्तकारों के पास अन्य कोई आजीविका के स्त्रोत नहीं हैं। ऐसे में खेती बाड़ी करना भी मुश्किल हो जायेगा। बारूद का विषैला धुंआ स्वास्थ्य एवं खेती के लिए काफी कष्टदायक है। आगे यह भी अवगत कराया है कि बैढऩ का बलियरी बारूद कंपनी 2008 का काण्ड किसी को भूला नहीं है। बलियरी हादसे में कई लोगों की जान गयी थी और भारी जान माल का नुकसान हुआ था। हम ग्रामवासी नहीं चाहते हैं कि इस क्षेत्र में भी बलियरी हादसे की पुनरावृत्ति हो.Singrauli News

बाघाडीह में बारूद फैक्ट्री खुल गया तो गांव में बहुत से नुकसान होना तय है। खेती के साथ-साथ वायु प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण का भी खतरा बना रहेगा और मवेशियों के लिए भी काफी नुकसानदेय है। ग्रामवासी बिना खेती किसानी किये तथा बिना मवेशी पाले जीविकोपार्जन नहीं कर पायेंगे। बारूद कंपनियों से होने वाले नुकसान की भरपाई कराने का जिम्मा प्रशासन भी नहीं लेता है। इसलिए ऐसी कंपनी को घनी आबादी से दूर किया जाय। यदि प्रशासन हठधर्मिता अपनाता है तो  ग्रामीण अनशन करने के लिए विवश हो जायेंगे। अंत में लिखा है कि सोलार इन्डस्ट्रीज प्रा.लि. का कार्य बाघाडीह से बंद कराकर बंजर भूमि आबादी से दूर स्थापित कराये जाने का प्रयास किया जाय।  ताकि किसी बड़े हादसे से बचा जा सके।

सांसद ने कलेक्टर को लिखा पत्र – Singrauli News

इस संबंध में सांसद रीती पाठक को जनपद सदस्य द्वारा एक शिकायती पत्र सौंपा गया। जिस पर सांसद रीती पाठक ने कलेक्टर सिंगरौली को पत्र लिखते हुए कहा है कि सोलार इन्डस्ट्रीज प्रा.लि.नागपुर शाखा कार्यालय सिंगरौली द्वारा ग्राम बाघाडीह तहसील देवसर में बारूद भण्डारण के लिये किये जा रहे कार्यों की जांच कराकर त्वरित कार्रवाई करें। सांसद के द्वारा कलेक्टर को पत्राचार किये जाने के बाद यहां के ग्रामीणों में नई उम्मीद जगी है कि बाघाडीह से सोलार इंडस्ट्रीज का बारूद कंपनी का काम बंद हो जायेगा। लोगबाग इस कंपनी के आने से भयक्रांत भी हैं।

ग्रामीणों को जानकारी नहीं,मिल गई एनओसीSingrauli News

यहां के ग्रामीणों का आरोप है कि जिस वक्त बाघाडीह में सोलार इंडस्ट्रीज बारूद कंपनी पैर रखने का प्रयास किया उस दौरान ग्रामीणों को जानकारी नहीं हुई और न ही उस दौरान के पंचायत के मुखिया ने भी ग्रामीणों को जानकारी देना उचित नहीं समझा। आरोप लगाया जा रहा है कि तत्कालीन पंचायत प्रतिनिधि ने गुपचुप तरीके से पंचायत के द्वारा एनओसी जारी कर दिया गया। जबकि नियमानुसार ग्रामसभा की बैठक में सबको अवगत कराया जाता। यदि ग्रामीण सहमति होते तभी एनओसी जारी करना चाहिए था। किन्तु कंपनी ने पंचायत से सांठ-गांठ कर एनओसी हासिल करने में कामयाब रहे। ग्रामीणों ने इसकी भी जांच कराये जाने की मांग की है।

also read – Singrauli News – मध्य प्रदेश का नवानगर थाना कोयला से फिजा में घुलवा रहा जहर, बढ़ रहा कैंसर का खतरा!

Singrauli News:  सोलार इंडस्ट्रीज बारूद फैक्ट्री के खिलाफ जपं सदस्य सहित ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, सांसद से कहीं यह बात
photo by google

also read – Potato Farming: जमीन के नीचे नहीं  अब हवा में उगाएं आलू, किसानों को होगा बड़ा लाभ 

Singrauli News:  सोलार इंडस्ट्रीज बारूद फैक्ट्री के खिलाफ जपं सदस्य सहित ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, सांसद से कहीं यह बात
photo by google

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular