Friday, November 24, 2023
HomeBusinessNew service in Dehradun- टाटा की यह कंपनी ड्रोन से दवाइयों की...

New service in Dehradun- टाटा की यह कंपनी ड्रोन से दवाइयों की करेगी होम डिलीवरी, पढ़ें डिटेल

- Advertisement -

New service in Dehradun- सैंपल ले जाने वाले ड्रोन को छह किलो तक का पेलोड (payload) ले जाने के लिए डिज़ाइन(design) किया गया है और यह 100 किमी की हवाई दूरी तय करेगा। एक अकेला ड्रोन(lonely drone) 150 नमूने तक ले जा सकता है।

New service in Dehradun – टाटा ग्रुप के डिजिटल हेल्थ प्लेटफॉर्म 1mg ने भारत में डायग्नोस्टिक सैंपल और दवाएं पहुंचाने के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च किया है। इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत ड्रोन(drone) के जरिए सेवाएं मुहैया कराई जाएंगी। अभी इसकी शुरुआत सिर्फ एक शहर देहरादून (City Dehradun)में हुई है। इस सेवा का उपयोग शहर भर में दवाएं और अन्य स्वास्थ्य संबंधी उत्पादों को वितरित करने के लिए किया जाएगा। यह ड्रोन जल्दी से इकट्ठा और वितरित करने में सक्षम होगा ताकि सड़क यातायात के कारण देरी न हो।

- Advertisement -

इस सेवा के लिए टाटा ने अग्रणी ड्रोन लॉजिस्टिक सेवा प्रदाता टीएसएडब्ल्यू के साथ साझेदारी की है दूर-दराज के क्षेत्रों में दवाएं पहुंचाने के अलावा, ये ड्रोन शहर के विभिन्न हिस्सों से चिकित्सा के नमूने एकत्र करने और उन्हें प्रसंस्करण के लिए टाटा 1mg लैब में ले जाने में सक्षम होंगे।

ड्रोन मेडिकल सैंपल को कैसे हैंडल करें. New service in Dehradun

सैंपल ले जाने वाले ड्रोन को छह किलो तक का पेलोड ले जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है और यह 100 किमी की हवाई दूरी तय करेगा। एक अकेला ड्रोन 150 नमूने तक ले जा सकता है। इस ड्रोन में इस्तेमाल होने वाले कंपोनेंट तापमान नियंत्रित होंगे। इसके अलावा, ये ड्रोन एक ऐसी तकनीक के साथ भी आएंगे जो नमूनों को लैब में ले जाते समय तापमान की लगातार निगरानी करने में मदद करेगी . New service in Dehradun

ड्रोन उड़ाने के लिए टाटा बरत रही है सावधानियां . New service in Dehradun

दुर्घटनाओं की संभावना से बचने के लिए इन ड्रोनों को उड़ाते समय Tata 1mg सभी आवश्यक सावधानी बरत रही है। कंपनी के सीओओ तन्मय सक्सेना का दावा है कि हर ड्रोन अपनी उड़ान से पहले और बाद में उन्नत जांच से गुजरता है, जिसमें बैटरी जांच और बहुत कुछ शामिल है. New service in Dehradun

इसके अलावा, ड्रोन एक स्मार्ट मैपिंग तकनीक का भी पालन करते हैं जो उन्हें उड़ान भरने के लिए सबसे सुरक्षित मार्ग खोजने में मदद करती है। साथ ही, इन ड्रोन में टक्कर रोधी तकनीक होती है जो उन्हें यह समझने में मदद करती है कि उड़ान के दौरान उनके सामने कोई वस्तु है या नहीं. New service in Dehradun

also read – Gautam Adani बोलें- NDTV खरीदना हमारा दाय‍ित्‍व, सरकार के गलत व सही दोनों पक्ष द‍िखाने का होना चाहिए साहस 

New service in Dehradun- टाटा की यह कंपनी ड्रोन से दवाइयों की करेगी होम डिलीवरी, पढ़ें डिटेल
photo by google

also read – Gautam Adani मुंद्रा पोर्ट से 17 करोड़ की 85 लाख विदेशी सिगरेट पकड़ाई, जानिए पूरा मामला

New service in Dehradun- टाटा की यह कंपनी ड्रोन से दवाइयों की करेगी होम डिलीवरी, पढ़ें डिटेल
photo by google
- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular