Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshMP Transfer: अंतिम तारीख के बाद तबादलों पर सीएम शिवराज ने अफसरों...

MP Transfer: अंतिम तारीख के बाद तबादलों पर सीएम शिवराज ने अफसरों से तलब की रिपोर्ट, कांग्रेस ने बताया शिवराज चला रहे तबादला उद्योग

- Advertisement -

MP Transfer After the last date, CM Shivraj summoned the officers on the report, Congress told that Shivraj is running the transfer industry

MP Transfer : नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने आरोप लगाया है कि तबादलों में बड़े स्तर पर गड़बड़ी की गई है और स्थानांतरण नीति का पालन नहीं किया गया है. इसलिए मुख्य सचिव को जवाब मांगना पड़ा.तबादला नीति के पालन को सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक सचिव व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार हैं यह बड़ा घोटाला है.


MP Transfer : कांग्रेस सरकार पर तबादला उद्योग चलाने का आरोप लगाने बाली भाजपा सरकार अब सवालों के घेरे पर है दरअसल मध्यप्रदेश में बैक डेट में हुए तबादले को लेकर अब विवाद की स्थिति बन गई है.  कई मंत्रियों और विभागाध्यक्षों (अपर मुख्य सचिव प्रमुख सचिव व सचिव) ने 5 अक्टूबर की तारीख के 1 सप्ताह बाद तक ट्रांसफर आदेश जारी किए हैं . यह सभी 5 अक्टूबर या फिर उससे पहले की तारीख में थे. जो मंत्री ट्रांसफर नहीं कर पाए उन्होंने आपत्ति उठाई तो मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने रविवार को सभी विभागाध्यक्षों मोबाइल मैसेज भेज कर जवाब मांगा लिया है.  इसके बाद राजनीतिक गलियारे सहित रेड कारपेट में हड़कंप मच गया. 

- Advertisement -

बता दें कि नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने आरोप लगाया है कि तबादलों में बड़े स्तर पर गड़बड़ी की गई है इसलिए मुख्य सचिव को जवाब मांगना पड़ा तबादला नीति के पालन को सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक सचिव व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार हैं यह बड़ा घोटाला है. नेता प्रतिपक्ष ने स्कूल शिक्षा और कई विभागों के तबादले पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि तबादलों में ऑनलाइन टेंपरिंग की गई है कांग्रेस सरकार में आरोप लगाने वाली भाजपा सरकार खुद ही तबादला उद्योग चला रही है सरकार को तबादलों में भ्रष्टाचार पर जवाब देना चाहिए. MP Transfer

तबादलों की अंतिम तारीख खत्म होने के बाद तबादले होने को लेकर विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी शुरू कर दी है वही सीएम शिवराज भी इन तबादलों को लेकर अफसरों से स्पष्टीकरण मांगा है.मीडिया रिपोर्ट की मानें तो इकबाल बस सचिवों से जानकारी मांगी है कि सरकार और विभागाध्यक्षों के स्तर पर पिछली डेट में तबादला आदेश जारी कर दिए गए जबकि तबादला नीति में स्पष्ट था कि 5 अक्टूबर तक ही ट्रांसफर किए जाएंगे इसे लागू करने की जवाबदारी सभी विभागाध्यक्षों की थी. बावजूद इसके यदि तबादला किए गए हैं तो यह निंदनीय. इसके लिए उन्हें जिम्मेदारी तय करते हुए जवाब देना होगा. MP Transfer

मुख्य सचिव इकबाल बैंस ने सभी प्रकरणों और तबादलों को पूरा ब्यौर तलब करने का आदेश दिया है

सभी अपर मुख्य सचिव प्रमुख सचिव और सचिव से जवाब मांगा है कि वह खुद के हस्ताक्षर से एक प्रमाण पत्र दे उनकी तरफ से किसी भी नियम का उल्लंघन व दुरुपयोग नहीं किया गया यदि ऐसा किसी के द्वारा किया गया है तो उसका विस्तृत कारण व वजह स्पष्ट करते हुए 17 अक्टूबर को जानकारी मैं लाए मुख्य सचिव के इस मैसेज के बाद सभी विभागों के विभागाध्यक्षों में खलबली मच गई है. 

यह भी पड़े — Shahrukh’s darling : शाहरुख़ की लाड़ली को ग़ैर मर्दों के साथ सम्बंध बनाने पर माँ गौरी बोली – कभी दो लड़कों को एक समय पर…

यह भी पड़े — Kareena Kapoor को स्कूल में हुआ था प्यार, 14 साल की उम्र में हो गई थी प्रेग्नेंट ? परेशान होकर मां..

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular