Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshVindhyaरिश्तों का कत्ल: रीवा में अपने ही रंगने लगे खून से हाथ,...

रिश्तों का कत्ल: रीवा में अपने ही रंगने लगे खून से हाथ, युवक ने छोटे भाई की ली जान

- Advertisement -
- Advertisement -

By –दीपक पटेल

Rewa News दो साल में आधा दर्जन से अधिक हत्याओं में अपनों का रहा हाथ। कहीं पिता ने बेटी की तो भाई ने भाई की जान ले ली,कभी पैसों का लालच तो कभी शक प्रमुख वजह। इन हत्याओं के चलते कई परिवारों में लोग आज भी इसका दंश झेल रहा है।

रीवा – जिले में अपने ही रहने लगे खून से हाथ जी हां खून के रिश्तों पर सम्पत्ति भारी पड़ गई। पुस्तैनी सम्पत्ति के हिस्सा बंटवारा को लेकर चल रहे पुराने विवाद में युवक ने अपने भाई से पहले गाली गलौज फिर कुदारी के बेट से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. जहां युवक की उपचार के दौरान मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है जिससे घटना के संबंध में पूछताछ की जा रही है।

हिस्साबांट को लेकर हुआ था विवाद
हैरान कर देने वाली यह घटना सेमरिया थाने के भमरा गांव की है। यहां रहने वाले प्रवीण श्रीवास्तव पिता रामलखन श्रीवास्तव 34 वर्ष का अपने बड़े भाई नवीन श्रीवास्तव के साथ पुराना जमीनी विवाद चल रहा था.जहां दो दिन पहले दोनों भाइयों के बीच विवाद हुआ था। घर में सिर्फ दोनों भाई मौजूद थे जिनके बीच पुस्तैनी सम्पत्ति के हिस्साबांट को लेकर विवाद हो गया. घटना के दिन मां व बहन सतना में थे।

इस दौरान आरोपी नवीन श्रीवास्तव ने अपने छोटे भाई के साथ गाली गलौज करते हुए मारपीट की और गुस्से में उस पर कुदारी के बेट से ताबड़तोड़ हमला कर दिया. जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद आरोपी ने अपने जीजा को फोन कर घटना की जानकारी दी. जानकारी मिलते ही घर पहुंची जीजा ने तत्काल अपने छोटे साले को इलाज के लिए सतना जिला अस्पताल पहुंचा जहां से उसकी हालत गंभीर देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने जबलपुर के लिए रेफर कर दिया। परिजन उसको जबलपुर लेकर जा रहे थे जिसकी उचेहरा के समीप मौत हो गई।

शव लेकर थाने पहुंचे परिजन
शुक्रवार की रात परिजन शव को लेकर सेमरिया पहुंचे और घटना की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है। शनिवार को पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए संजय गांधी अस्पताल लेकर आई। सुबह अतिरिक्त पुलिस अधीक्ष्क अनिल सोनकर, एसडीओपी नवीन तिवारी मौके पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। घटना से पूरे परिवार गहरे सदमें में है। घर का एक चिराग काल के गाल में समा गया और दूसरा सलाखों के पीछे पहुंच गया।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular