Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshVindhyaGautam Adani Coal Dispatch closed : अदाणी को जिम्मेदारी देकर APMDC...

Gautam Adani Coal Dispatch closed : अदाणी को जिम्मेदारी देकर APMDC झाड़ रही पल्ला ,17 दिन से विस्थापितों का डोंगरी में चल रहा धरना,अदाणी का डिस्पैच बंद

- Advertisement -
- Advertisement -

Gautam Adani’s Coal Dispatch closed सिंगरौली। एपीएमडीसी सुलियरी कोल ब्लाक से विस्थापित हुए  9 गांवो के विस्थापित सुलियरी कोल ब्लाक के अधिकारियों के अडिय़ल रवैये से परेशान होकर 9 सूत्रीय मांग पत्र को लेकर 17 दिन से धरना प्रदर्शन में बैठे हुए हैं। एपीएमडीसी अदाणी को जिम्मेदारी देकर पल्ला झाड़ रही है। 17 दिन से चल रहे लामबंद हड़ताल को लेकर प्रशासन भी पहल करता हुआ दिखाई नही दे रहा है। विस्थापितों का डोंगरी के अदाणी डिस्पैच गेट पर धरना प्रदर्शन होने के चलते भारी नुकसानी झेलनी पड़ रही है।

Gautam Adani’s Coal Dispatch closed डोंगरी में चल रहे धरना प्रदर्शन में बैठे 9 गांवो के विस्थापितों ने अपने मांग पत्र में कहा है कि विस्थापित परिवारों को एपीएमडीसी कंपनी ने एम्पलाई की भांति स्थाई नौकरी दी जाए। इसके अलावा सभी विस्थापितों को शत-प्रतिशत मुआवजा भुगतान किया जाए और एस-9 का मुआवजा अवार्ड में शामिल कर अवार्ड का मुआवजा आज दिनांक तक का ब्याज जोडक़र दिया जाए। इसके अलावा आर एण्ड आर कॉलोनी में स्कूल,हास्पिटल,बिजली पानी और सर्व सुविधायुक्त होने के बाद ही विस्थापन किया जाए। सुलियरी कोल माइंस में जितने भी गांव प्रभावित हैं उनमें लगभग 30 फीसदी लोग विस्थापित कार्ड से वंचित है। उनको विस्थापित सूची में नाम जोडक़र विस्थापित कार्ड दिया जाए।परियोजना प्रभावित परिवारों का प्रभावित अभी तक नही दिया गया हैं उनको तत्काल प्रभावित कार्ड दिया जाए और आर एण्ड आर कॉलोनी में प्लाट के अलावा समस्त लाभ दिया जाए। Gautam Adani

परियोजना में जिनकी खाली जमीन जा रही है उसको कब्जा के समय एक मुश्त पैकेज 5 लाख दिया जाए। मांग पत्र में आगे कहा है कि जिन विस्थापितों का इंटरब्यू हो चुका है उनको तत्काल परियोजना में ज्वाइंनिग कराया जाए। सभी विस्थापितों का पिछले 10 महीने का एरियर भत्ता और पेंशन के अलावा विस्थापितों का आज कृषि मजदूरी दर से बेरोजगारी भत्ता 7 हजार को बढ़ाकर 10300 दिया जाए। जो विस्थापित परिवार परियोजना में नौकरी नही करना चाहता उसे एक मुश्त राशि 5 लाख प्रदान की जाए। विस्थापितों ने अपने मांग पत्र में आगे कहा है कि ग्राम डोंगरी से खनुआ तक सिंगल रोड होने से दुर्घटना होती रहती है। जब तक कंपनी के द्वारा स्वंय का रोड का निर्माण नही कराया जाता तब तक ग्रामीण रोड में कोल परिवहन बंद किया जाए।Gautam Adani

एपीएमडीसी ने किया हैण्डओवर
विस्थापितों ने धरना प्रदर्शन के दौरान कंपनी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि एपीएमडीसी सुलियरी कोल ब्लाक के द्वारा 9 गांव के विस्थापितों के साथ धोखा किया है। एपीएमडीसी ने भू अर्जन से लेकर सभी प्रक्रिया की लेकिन अब विस्थापितों को धोखा देकर एपीएमडीसी ने अदाणी कंपनी को हैण्डओवर कर दिया है। जब विस्थापित कुछ करते हैं तो अदाणी कंपनी आगे आती है। कहीं न कहीं एपीएमडीसी के साथ-साथ अदाणी भी विस्थापितों पर कहर भरपाती हुई दिखाई दे रही है।Gautam Adani

बच्चा प्रसाद को हटाया जाए
डोंगरी में चल रहे 17 दिन से धरना प्रदर्शन रुकने का नाम नही ले रहा है। एसडीएम विकास सिंह धरना स्थल पर गए थे जहां एक महीने का समय मांग रहे थे। लेकिन विस्थापित अडिग थे और कहना था कि पहले आप मांग पत्र को पूर्ण करें तब कोई बात होगी। वहीं गत दिवस नवागत कलेक्टर अरुण कुमार परमार ने भी बैठक ली थी।  लेकिन अभी तक कोई हल निकलता हुआ  दिखाई नही दे रहा है। विस्थापितो ने आरोप में कहा है कि  अदाणी कंपनी के प्रमुख बच्चा प्रसाद को यहां से तत्काल हटाया जाए।Gautam Adani

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular