Wednesday, February 1, 2023
HomeMadhya PradeshMP: सांसद रीति पाठक एक नजर nh39 पर भी,कोल वाहन पलटा,जर्जर सड़क...

MP: सांसद रीति पाठक एक नजर nh39 पर भी,कोल वाहन पलटा,जर्जर सड़क को लेकर अब कोल ट्रांसपोर्टर नुकसान की भरपाई के लिए मुख्य मार्ग पर जमे

- Advertisement -

MP: सिंगरौली 9 नवम्बर। सीधी सिंगरौली(Straight Singrauli) सांसद रीति पाठक(MP Riti Pathak) अब सीधी सिंगरौली दोनों जिला पर आए दिन विरोध का सामना करना पड़ता है. विरोध का सामना करने की मुख्य वजह nh39 है. विपक्ष सहित आम जनमानस(public mind) में अब बात होने लगी है कि सांसद रीति(MP Riti Pathak) सिर्फ फेसबुक और व्हाट्सएप(whatsapp) पर अपनी उपलब्धियों को गिना कर मियां मिट्ठू भली बनी रहे लेकिन हकीकत यह है एनएच 39 (nh39) बयां कर रही है. nh39 मैं आए दिन सड़क हादसे होते हैं लेकिन इन हादसों को लेकर सांसद महोदय(Mr. MP) कि कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आती है.

- Advertisement -

सांसद रीति पाठक एक नजर इधर भी सिंगरौली में

बुधवार दोपहर गोरबी मोरवा मार्ग(Morwa Marg) पर खस्ताहाल सड़क के कारण कोयले(coal) से लदा वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर पलट गया। ट्रक सिंगरौली(Truck Singaruli) मोटर एसोसिएशन के अध्यक्ष विनोद कुरवंसी(Vinod Kurwansi) का था। आरोप है कि वाहन पलटने के बाद अराजक तत्वों(chaotic elements) द्वारा वाहन से बैटरी निकाली गई एवं ट्रक से गिरा कोयला भी पार कर दिया। इसके बाद कोल ट्रांसपोर्टरों(Coal transporters) ने एकजुट होकर परिवहन मार्ग बाधित कर दिया। जिससे लंबे जाम की स्थिति निर्मित हो गई. MP

कोल व्यवसाय से जुड़े विनोद कुरवंसी, राजेश सिंह, शेखर सिंह समेत तमाम कोल व्यवसाई सड़क एवं मुआवजे की मांग को लेकर घटनास्थल पर बैठ गए। हालात की स्थिति जानते हुए तहसीलदार दिवाकर सिंह, एसडीओपी राजीव पाठक, मोरवा निरीक्षक यूपी सिंह भी घटनास्थल पहुंचे. MP

मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों से कोल व्यवसायियों ने मांग की कि कोयले से जुड़े व्यापारी प्रति माह सड़क सुरक्षा निधि में एक निश्चित धनराशि जमा करते हैं जो हर महीने करोड़ों में जाती है। इसी निधि से सड़क दुर्घटना में मरने वाले पीडि़त परिवारों को तत्काल राहत राशि दी जाती है तो जब सड़क की वजह से कोल वाहनों या अन्य वाहनों के हो रहे हादसों में सड़क सुरक्षा निधि से उन्हें भी उचित मुआवजा दिया जाए. MP

कोल ट्रांसपोर्टरों ने कहा कि सड़क बना रहे ठेकेदार समेत एमपीआरडीसी के अधिकारियों पर भी दुर्घटना को लेकर मामला पंजीबद्ध हो। साथ ही दशकों से सड़क का मुद्दा झेल रही जनता को बेहतर सड़क के लिए निश्चित तिथि बताई जाए। काफी देर चली बातचीत के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने कल नवागत कलेक्टर अरुण कुमार परमार से ट्रांसपोर्टरों की बैठक कराकर समस्याओं का उचित निराकरण का भरोसा दिलाया, जिसके बाद जाकर जाम खुला. MP

यह भी पढ़े — Diwali में करीना ने पहनी इतनी महंगी ड्रेस, खरीद सकते हैं शानदार महंगी बाइक !

यह भी पढ़े — Bollywood की यह एक्ट्रेस शादी के पहले हो गई प्रेग्नेंट और बनी कुंवारी मां, कुछ तो अभी तक नहीं की शादी

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular