Wednesday, February 1, 2023
HomeNationalFirecrackers Ban : पटाखों के धुएं में उड़ा सरकारी आदेश, दिल्ली और...

Firecrackers Ban : पटाखों के धुएं में उड़ा सरकारी आदेश, दिल्ली और सिंगरौली वालों ने जमकर की आतिशबाजी

- Advertisement -
- Advertisement -

firecrackers Ban Despite the firecracker bandh fireworks were done in many states of India ,firecrackers Ban singrauli news Government order blew up in the smoke of firecrackers, Delhi and Singrauli people fired fireworks fiercely

Firecrackers Ban (Delhi and mp Government): बड़ा सवाल यह है कि लोगों ने इतनी बड़ी मात्रा में पटाखे कहां से खरीदे। हालांकि, प्रशासन के साथ-साथ पुलिस के लिए भी एक गंभीर सवाल खड़ा होता है और बड़ा सवाल यह है कि प्रदूषण को कैसे रोका जाए.

firecrackers Ban : नई दिल्ली: दिवाली का त्योहार पूरे देश में धूमधाम से मनाया गया, लेकिन इन सबके बीच दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए पटाखों को जलाने, बेचने और रखने पर रोक लगाने वाले सरकारी आदेश भी उड़ते नजर आए. आतिशबाज़ी और अन्य पटाखों से फैला धुआ.

दिल्ली के लोगों ने प्रदूषण और स्वास्थ्य पर इसके प्रतिकूल प्रभावों के बारे में सोचे बिना ही पटाखे फोड़े।

पाबंदी के बावजूद पिछली बार की तरह पश्चिमी दिल्ली के तमाम इलाकों में बच्चों और बुजुर्गों ने पटाखे फोड़े. जगमगाते दियो के बीच फोड़े गए पटाखे, गली-मोहल्लों में लोग हाथों में बारूद से भरे लंबे-लंबे पाइप लेकर फूंकते नजर आए. Firecrackers Ban

Firecrackers Ban : पटाखों के धुएं में उड़ा सरकारी आदेश, दिल्ली और सिंगरौली वालों ने जमकर की आतिशबाजी
photo by google

इस बार राजधानी दिल्ली और mp के singrauli में पटाखों के उपयोग को लेकर केस दर्ज करने का आदेश दिया गया. आरोप साबित होने पर 6 महीने तक के जुर्माने और कारावास का प्रावधान है। इसके बावजूद दीपावली की शाम कोई पुलिस या सरकारी प्रतिनिधि नजर नहीं आया। ज्यादातर इलाकों में पटाखों पर पाबंदी का असर पूरी तरह से तटस्थ रहा और लोग दिवाली मनाते नजर आए. Firecrackers Ban

साफ है कि दिल्ली में हवा पहले ही खराब हो चुकी है. वह हवा अब पटाखों से निकलने वाले धुएं से और खराब होगी और प्रदूषण का स्तर भी बढ़ेगा। पश्चिमी दिल्ली के उत्तम नगर, जनकपुरी, बिकाशनगर, शिव विहार, मटियाला बिंदापुर, जनकपुरी, ठाकुर गार्डन समेत तमाम इलाकों में लोगों ने पटाखे फोड़े. Firecrackers Ban

बैन के बाद दिल्ली पुलिस भी दिवाली तक बेहद सख्ती से दिख रही थी. विभिन्न इलाकों में छापेमारी कर भारी मात्रा में पटाखा बरामद किया गया और बेचने वाले को भी गिरफ्तार कर लिया गया. इन सबके बावजूद बड़ा सवाल यह है कि लोगों ने इतनी बड़ी मात्रा में पटाखे कहां से खरीदे. Firecrackers Ban

निश्चित तौर पर प्रशासन के साथ-साथ पुलिस पर भी एक गंभीर सवाल खड़ा हो गया है और बड़ा सवाल यह है कि प्रदूषण को कैसे रोका जाए और राजधानी के लोगों को स्वच्छ हवा कहां से मिलेगी. ऐसे ही कई सारे सवाल प्रशासन पर खड़े हो रहे हैं. Firecrackers Ban

यह भी पढ़े — Vindhya की पहली बघेली फिल्म का ट्रेलर रिलीज, 12 नवंबर को MP- छत्तीसगढ़ के सिनेमा घरों में होगी र‍िलीज

यह भी पढ़े — MP : ऐसे ही शिव का मध्यप्रदेश में नहीं हैं राज, 36 योजना चलाकर बहनों के भाई और बच्चों के बन गए मामा

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular