Tuesday, March 5, 2024
HomeMadhya PradeshBJP mission 2023: मप्र में BJP मिशन 2023 की तैयारी में जुटी,...

BJP mission 2023: मप्र में BJP मिशन 2023 की तैयारी में जुटी, सिंधिया के पर कतरने की तैयारी? ग्वालियर-चंबल में रह जाएंगे सीमित

- Advertisement -

BJP mission 2023: एमपी विधानसभा चुनाव(mp assembly election) में पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम शिवराज सिंह चुनावी चेहरा होंगे. जबकि ऊंची उड़ान भरने वाले ग्वालियर चंबल के कद्दावर नेता  केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया(Jyotiraditya Scindia) के अब पर कतरने की(now to clip) तैयारी में झूठे हैं ऐसा हम नहीं राजनीति से जुड़े लोग संभावना जता रहे हैं. ऐसा हुआ तो एक बार फिर सिंधिया के मुख्यमंत्री(Then the Chief Minister of Scindia) बनने का सपना सिर्फ सपना ही रह जाएगा.

- Advertisement -

MP NEWS: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में करीब एक साल का समय बचा है. ऐसें में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने विधानसभा चुनाव (mission 2023) की तैयारी जोरों पर शुरू कर दी है।  इतना ही नहीं अलग-अलग क्षेत्रों का प्रभार लेने के मौखिक आदेश भी जारी होने लगे हैं. अहम बात यह है कि केंद्रीय मंत्री और प्रदेश के युवा चेहरे ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को मुख्य रूप से ग्वालियर-चंबल क्षेत्र पर फोकस करने की जिम्मेदारी दी जा सकती है. इसकी आधिकारिक चर्चा कोई नहीं करता.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने हाल ही में बीजेपी विधायकों और मंत्रियों से बातचीत के दौरान साफ ​​तौर पर कहा था कि उन्हें अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों पर पूरा फोकस करना चाहिए.  विकास कार्यों में किसी प्रकार की बाधा न आए, यह सुनिश्चित करने की बात भी कही गई है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कहा है कि हमारे क्षेत्र को मजबूत करने की रणनीति ही सफलता की कुंजी है. राजनीतिक जानकारों की मानें तो भाजपा ग्वालियर चंबल की 36 सीटों पर ज्योतिरादित्य सिंधिया की जिम्मे छोड़ना चाहती है या यूं कहें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के पर कतर कर उनका दायरा तय करना चाह रही है अगर यही रणनीति रही तो ज्योतिरादित्य सिंधिया का मुख्यमंत्री का सपना सपना रहकर रह जाएगा. BJP mission 2023

समर्थक मंत्रियों को जिताने की जिम्मेदारी सिंधिया की है

एमपी में अब सीएम के बयान के अलग-अलग मायने निकाले जा रहे हैं.  कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को ही ग्वालियर-चंबल संभाग और उनके प्रभाव वाले क्षेत्रों पर फोकस करने की जिम्मेदारी दी जा सकती है.  इसके अलावा अगर सिंधिया समर्थक विधायकों और मंत्रियों को टिकट मिलता है तो उनके क्षेत्रों की जिम्मेदारी भी सिंधिया के पास रहेगी. BJP mission 2023

 सीएम नहीं पीएम होंगे चुनावी चेहरा

वरिष्ठ पत्रकार श्रीकांत दुबे के मुताबिक मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे बड़ा चेहरा होंगे.  इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और तत्कालीन भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के चेहरे पर चुनाव लड़ा जाएगा। बीजेपी हमेशा संगठन को तवज्जो देने वाली पार्टी है।  इसलिए केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को एक सीमित क्षेत्र की ही जिम्मेदारी दी जा सकती है।  मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा और भी केंद्रीय मंत्री हैं। उज्जैन का प्रतिनिधित्व करने वाले डॉ. सत्यनारायण जटिया संसदीय बोर्ड के सदस्य भी हैं।  ऐसे में एक सीमित दायरे में ही जिम्मेदारियां दी जा सकती हैं ताकि टकराव की स्थिति पैदा न हो।

मध्य प्रदेश में 2023 के चुनाव की तैयारी दोनों पार्टियों के भीतर तेज हो गई है।  बीजेपी और कांग्रेस का इस बार खास फोकस ग्वालियर-चंबल अंचल पर है.  दोनों पार्टियों की नजर अनुसूचित जाति के वोटों पर है.  2018 के चुनाव में कांग्रेस को दलित वर्ग का भरपूर समर्थन मिला था, यही वजह है कि खासकर ग्वालियर चंबल अंचल में कांग्रेस ने बीजेपी से बेहतर प्रदर्शन किया और विधानसभा की 34 में से 26 सीटों पर जीत हासिल की.  2023 में कांग्रेस इस प्रदर्शन को दोहराना चाहती है, लेकिन बीजेपी भी अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहती है, ऐसे में दोनों पार्टियों में दलित वोट बैंक को साधने की कोशिश की जा रही है.  हम आपको इसके पीछे के राजनीतिक मायने बताने जा रहे हैं।

ग्वालियर-चंबल अंचल की 34 सीटों पर लाखों की संख्या में दलित मतदाता है, 2018 में हुई 2 अप्रैल की जातिगत हिंसा के बाद दलित मतदाता बीजेपी से छिटक गया जिसका खामियाजा, 2018 में सरकार गवा कर भुगतना पड़ा था, इससे पहले यह वोटर बीजेपी से जुड़ा रहा, लेकिन 2 अप्रैल की हिंसा के बाद दलित मतदाताओं की नाराजगी बीजेपी को भारी पड़ी.

यह भी पढ़े — jyotiraditya scindia game may over: जीवाजी क्लब पर छापा,BJP कतर रही ज्योतिरादित्य सिंधिया पर ?

यह भी पढ़े — Jyotiraditya Scindia: बीजेपी छोड़ कांग्रेस में आएंगे सिंधिया ? बोले यें 24 कैरेट है गद्दार !

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular